Digital Akhbaar

Latest Hindi News

CORONAVIRUS IN INDIA

CORONAVIRUS IN INDIA : भारत में पिछले 24 घंटों में दर्ज हुए 83,809 नए केस, सक्रिय मामलों की संख्या हुई 9,90,061

CORONAVIRUS IN INDIA :

CORONAVIRUS IN INDIA

भारत में कोरोना वायरस महामारी के कारण संकट का दौर चल रहा है। आए दिन कोरोना केस बढ़ते जा रहे हैं। सरकार द्वारा तमाम कदम इस महामारी से लोगों को बचाने के लिए उठाए गए, लेकिन अनलॉक के दौरान जनता में बेफिक्री के कारण कोरोना का प्रकाप बढ़ता चला गया। हालांकि, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में कुछ कम मामले सामने आए हैं।भारत में पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 83,809 नए मामले सामने आए और 1,054 मौतें हुई हैं।

CORONAVIRUS IN INDIA : कोरोना का प्रकोप

CORONAVIRUS IN INDIA

कोरोनावायरस और उससे फैलने वाली महामारी, यानी COVID-19 का प्रकोप पिछले कई महीनों से दुनियाभर में आतंक मचाए हुए है।हिन्दुस्तान में इस रोग की चपेट में आने वालों की तादाद एक लाख, यानी 1,00,000 तक पहुंचने में 110 दिन का समय लगा था, लेकिन उसके बाद गति बढ़ती चली गई, और अब देश में एक लाख केस सिर्फ एक-दो दिन में जुड़ते जा रहे हैं।भारत को 49 लाख पुष्ट मामलों का आंकड़ा पार करने में कुल 229 दिन लगे हैं।

CORONAVIRUS IN INDIA : महाराष्ट्र में सर्वाधिक स्वस्थ, रिकवरी रेट में तमिलनाडु आगे

CORONAVIRUS IN INDIA

देश में स्वस्थ मरीजों के मामले में पांच शीर्ष राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र में कोविड के सर्वाधिक मामलों के साथ सबसे ज्यादा स्वस्थ व्यक्ति भी हैं, लेकिन 69.79 फीसदी के साथ वह रिकवरी रेट में इनमें सबसे पीछे है। महाराष्ट्र में 10,60,308 मरीज हैं, जिसमें 7,40,061 स्वस्थ हो चुके हैं। यूपी में रिकवरी रेट 76.74%, आंध्र प्रदेश में 82.36%, तमिलनाडु में 88.98%, कर्नाटक में 76.82% है।

CORONAVIRUS IN INDIA : मृत्यु दर में गिरावट, रिकवरी रेट में सुधार

CORONAVIRUS IN INDIA

राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। मृत्यु दर गिरकर 1.63% हो गई। इसके अलावा एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर भी घटकर 20% हो गई है। इसके साथ ही रिकवरी रेट यानी ठीक होने की दर 78% हो गई है। भारत में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है।

Also visit –http://digitalakhbaar.com/new-education-policy-2020-2/