Digital Akhbaar

Latest Hindi News

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND : उत्तराखंड में महिला उद्यमी दिखा रहीं रोजगार की राह

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND :

 

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND

देहरादून। सूबे की महिलाएं उद्यमिता के क्षेत्र में अपने ‘हुनर’ के दम पर बेरोजगारों का करियर संवार रही हैं। वर्तमान में प्रदेश में 201 महिलाओं ने अपने उद्योग स्थापित कर न केवल अपनी आय बढ़ा रही हैं, बल्कि दर्जनों बेरोजगार युवाओं को अपने यहां नौकरी देकर उनको अपना करियर बनाने का मौका भी दिया है। इन महिलाओं की कर्मठता से एक अगस्त 2020 तक 1130 बेरोजगारों को घर के समीप रोजगार मिला हैं। इन उद्यमी महिलाओं को उद्योग विभाग की ओर से विशेष प्रोत्साहन योजना का लाभ भी दिया गया।

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND: महिला योजना के दिखाई नई राह

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND

राज्य में महिला उद्यमियों के लिए विशेष प्रोत्साहन योजना सबसे पहले 15 अगस्त 2015 को शुरू की गई थी। इस योजना में महिलाओं को उद्योग स्थापित करने को ऋण दिया जाता है, जिसमें 20 से लेकर 25 फीसद तक सब्सिडी दी जाती है।

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND

विशेष प्रोत्साहन योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं में उद्यमिता और कौशल विकास का सृजन करना है। जिससे महिलाएं अपना उद्यम स्थापित कर आत्मनिर्भर बनें और समाज में रोजगार प्रदाता बनकर अन्य को भी रोजगार के अवसर पैदा करें।

Also visit- https://digitalakhbaar.com/uttrakhand-news-3/

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND

उत्तराखंड के चार मुख्य जिलों में देहरादून में 51, उधमसिंहनगर में 48, हरिद्वार में 34 और नैनीताल में 23 महिला उद्यमी हैं। देहरादून में सिद्दकी सिस्टर्स के नाम से पहचान बना चुकी अनिला और साइना सिद्दकी हैंडीक्राफ्ट के सामान की स्टॉल लगाकर स्वयं के रोजगार के साथ अन्य को भी स्वरोजगार से जोड़ रही हैं।

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND: उद्योगों में इनका हो रहा कारोबार

EMPLOYMENT IN UTTRAKHAND

महिला उद्यमी स्वामित्व वाली इकाइयों में फूड प्रोसेसिंग वर्क, कपड़ों की रंगाई, स्कूली ड्रेस तैयार, चटनी अचार, बिस्किट, बैकरी उद्योग, कैरी बैग, ऊन और धागा, घर के सजावटी सामान, फर्नीचर उद्योग, कृषि उपकरण, दवा उद्योग, फेस क्रीम, आकर्षक  बैकरी उद्योग, कैरी बैग, ऊन और धागा, घर के सजावटी सामान, फर्नीचर उद्योग, कृषि उपकरण, दवा उद्योग, फेस क्रीम, आकर्षक उपहार शामिल हैं।

Also visit –http://digitalakhbaar.com/allahabad-university/