Digital Akhbaar

Latest Hindi News

INDIA-CHINA BORDER NEWS : भारतीय सैनिकों ने चुशूल सेक्टर में दबदबा बनाया, पैंगांग झील में उतरेगी फास्ट इंटरसेप्टर मोटर बोट

INDIA-CHINA BORDER NEWS :

INDIA-CHINA BORDER NEWS

सेना के अधिकारियों ने बताया कि फायर एंड फ्यूरी कोर ने उत्तरी कमान को जल्द ही अत्याधुनिक इलेक्ट्रॉनिक निगरानी उपकरण, थर्मल इमेजर व सेंसरों समेत हर मौसम में क्रियाशील रहने वाले स्वचालित निगरानी कैमरे और आठ यूएवी उपलब्ध कराने के लिए कहा है। ताकि चीन की सेना की गतिविधियों की और सटीक निगरानी की जा सके।

INDIA-CHINA BORDER NEWS

सूत्रों का कहना है कि भारत का यह कदम चीन के साथ सैन्य और कूटनीतिक बातचीत में फायदा पहुंचाएगा। दोनों देशों के बीच लद्दाख में सीमा विवाद मई से शुरू हुआ था। इसी सिलसिले में दोनों देशों के बीच कमांडर लेवल की बैठक लगातार तीसरे दिन बुधवार को हुई थी। यह बेनतीजा रही। बैठक सात घंटे चली। इससे पहले कमांडर लेवल की बातचीत सोमवार और मंगलवार को भी हुई थी, लेकिन उसमें सहमति नहीं बन पाई थी।

INDIA-CHINA BORDER NEWS : एटीवी से बढ़ेगा जवानों का मनोबल

INDIA-CHINA BORDER NEWS

सैन्य अधिकारी ने बताया पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर कई जगह सड़कें नहीं हैं। इन इलाकों में एटीवी ही मुफीद हैं। इससे जवानों का मनोबल और विश्वास भी बढ़ता है। साथ ही दुश्मन पर एक मनोवैज्ञानिक दबाव पड़ता है। बीते कुछ सालों के दौरान पूर्वी लद्दाख में चीन के अतिक्रमण के ट्रेंड का जो आकलन किया गया है, उसमें एक बात यह भी है कि एलएसी पर चीन के इलाके में सड़क नेटवर्क बेहतर है और उसके जवानों की आवाजाही हर जगह आसान होती है जबकि हमारे इलाका ज्यादा कठिन हैं ।

https://digitalakhbaar.com/indian-government-banned-118-chinese-apps/

INDIA-CHINA BORDER NEWS :  चीन ने फिंगर 8 के पास बढ़त बनाई 

INDIA-CHINA BORDER NEWS

लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव बना हुआ है। पैंगॉन्ग के दक्षिणी इलाके में दोनों सेनाएं आमने-सामने हैं। फिंगर-4 की पहाड़ियों पर चीनी सैनिकों की मौजूदगी है। यहां हमारे सैनिक नहीं हैं। बताया जा रहा है कि भारत ने तैनाती में यह बदलाव एहतियातन किया है। उधर, चुशूल सेक्टर में दक्षिणी पैंगॉन्ग इलाके के रेजांग ला और रिछिन ला तक की पूरी रिजलाइन पर भारतीय सेना का दबदबा है। इसके अलावा, भारत उत्तरी पैंगॉन्ग इलाके के फिंगर 3 के पास भी मजबूत स्थिति में है।

INDIA-CHINA BORDER NEWS

चीन ने उत्तरी पैंगॉन्ग के फिंगर 8 से आठ किलोमीटर दूर रिजलाइन के पास अपने सैनिकों की तादाद बढ़ा दी है। यह इलाका लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) के नजदीक है। उधर, अब रिछिन ला से लेकर गुरुंग हिल और मगर हिल पर भारतीय सैनिक डटे हैं। एक अधिकारी ने बताया कि चीनियों को सबसे ज्यादा परेशानी रिछिन ला पर हमारी मौजूदगी से है, क्योंकि वहां से उनका पूरा स्पांगुर गैरीसन निगरानी में आ चुका है। भारत को अब इस मामले में काफी बढ़त मिल चुकी है।

Also visit –http://digitalakhbaar.com/pms-twitter-account-hacked/