Digital Akhbaar

Latest Hindi News

MISSION MARCH 2020

MISSION MARCH 2020: 23 कैमरे लाल ग्रह होंगे, अमेरिकी रोवर मंगल पर जीवन का पता लगाएगा

MISSION MARCH 2020

23 कैमरे लाल ग्रह होंगे, अमेरिकी रोवर मंगल पर जीवन का पता लगाएगा

MISSION MARCH 2020

अंतरिक्ष के बारे में जानने के लिए हर कोई उत्सुक रहता है। हमारा ब्रह्मांड इतना विशाल और अचरज से भरा हुआ है कि इसके गूढ़ रहस्यों को जान पाना आसान नहीं है। फिर भी बहुत से लोगों का सपना होता है एक बार वे अंतरिक्ष की सैर जरूर करें। हममें से कई लोगों का यह सपना अब सच भी हो सकता है, क्योंकि आगामी कुछ वर्षो में नासा पर्यटकों के लिए भी अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन खोलने वाला है।
बड़ा रोवर है। 1970 के दशक के बाद से अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी का यह नौवां मंगल अभियान है।

MISSION MARCH 2020

परमाणु ऊर्जा से चलेगा

MISSION MARCH 2020

 

रोवर एक हजार किलोग्राम वजनी एक हजार किलोग्राम है, जबकि एंगेनुती हेलीकॉप्टर का वजन दो किलोग्राम है। रोवर परमाणु ऊर्जा से चलेगा। यह पहली बार है कि प्लूटोनियम का इस्तेमाल रोवर में ईंधन के रूप में किया जा रहा है। यह रोवर मंगल पर दस साल तक काम करेगा। इसमें सात फुट का रोबोटिक आर्म, 23 कैमरे और एक ड्रिल मशीन है।

MISSION MARCH 2020

चीन और संयुक्त अरब अमीरात के मिशन पहले से मौजूद हैं

पिछले एक सप्ताह में, नासा का पर्सीवरिंस तीसरा ऐसा विमान है जो मंगल की सतह पर उतरा है। इससे पहले, चीन ने मंगल ग्रह के मिशन के तहत पिछले साल 23 जुलाई को तियानवेन -1 को लाल ग्रह पर भेजा था। यह 10 फरवरी को मंगल की कक्षा में पहुंचा। इसके लैंडर को मई 2021 में यूटोपिया प्लांटिया क्षेत्र में उतरने की उम्मीद है। यूएई के मार्स मिशन होप ने भी इसी महीने मंगल की कक्षा में प्रवेश किया है।

MISSION MARCH 2020

तीन से चार अरब साल पहले जीवन की अपेक्षा करें

MISSION MARCH 2020

वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि यदि मंगल पर कभी जीवन रहा होता, तो यह तीन से चार अरब साल पहले होता, जब ग्रह पर पानी बहता था। वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि रोवर को दर्शन, धर्मशास्त्र और अंतरिक्ष विज्ञान से संबंधित एक महत्वपूर्ण प्रश्न का उत्तर मिल सकता है।

Also visit-https://gadgetsmart.tech/best-laptop-under-70000/