Digital Akhbaar

Latest Hindi News

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS: पीएसयू और पीएसबी शेयरों में उछाल, जानिए किस शेयर में मिलेगा आपको बंपर मुनाफा

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

पीएसयू और पीएसबी शेयरों में उछाल, जानिए किस शेयर में मिलेगा आपको बंपर मुनाफा

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

टाटा मोटर्स, टिस्को और इंफोसिस जैसे निफ्टी के कुछ शेयरों में मुनाफा वसूली के चलते इस हफ्ते निफ्टी में गिरावट दर्ज हुई। लेकिन इस हफ्ते में सरकारी कंपनियों व सरकारी बैंकों के शेयरों में भारी उछाल देखने को मिली। कई सरकारी कंपनियों के शेयर उच्च स्तर पर पहुंचे और साथ ही सरकारी बैकों में भी खूब तेजी देखने को मिली। इसका कारण है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार, जो सरकारी कंपनियों के निजीकरण के पक्ष में । इसी समय एक मीडिया रिपोर्ट भी सामने आई, जिसमें चार सरकारी बैंकों का निजीकरण किये जाने की बात कही गई।

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

बीपीसीएल में उछाल

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

हमने बीपीसीएल के लिए भी इस बारे में चर्चा की थी और बीपीसीएल भी काफी कम समय में 370 रुपये से 442 रुपये चला गया। हमने फिर से अनुमान लगाया है कि विनिवेश के समय इसकी कीमत 630 रुपये से ऊपर होगी। यहां तक ​​कि सरकार ने यह भी कहा है कि वह बीपीसीएल का मूल्यांकन 2 लाख करोड़ रुपये का करती है, जिसके अनुसार शेयर की कीमत 913 रुपये है। अगले 3 महीने में बिक्री की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और पूरी दुनिया जानेगी कि बीपीसीएल को किस कीमत पर बेचा जाता है।

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

बैंकों के शेयर पर चाहिए बारात

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

विश्लेषक सरकार की अक्षमता पर चर्चा करते हैं और कहते हैं कि बीपीसीएल साल 2002 से फेल रहा है। वे सरकार की अक्षमताओं पर काफी अधिक विश्वास करते हैं। हम मानते हैं कि चीजें बदल गई हैं। हमें विश्वास है कि सरकार को वह कीमत मिल जाएगी, जो वह चाहती है। अगर हम बीपीसीएल यूनियन के दावे पर ध्यान दें, तो बीपीसीएल के शेयर की कीमत 4400 रुपये है। एक बार बीपीसीएल का विनिवेश हो जाए, तो पीएसयू और पीएसबी के प्रति नजरिया नाटकीय रूप से यू-टर्न ले लेगा।कोई आश्चर्य नहीं, कि बैंक ऑफ बड़ौदा का शेयर 260 पर, बैंक ऑफ इंडिया का शेयर 300 पर और एसबीआइ का शेयर 1,000 रुपये पर हो जाए।

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

SHARE MARKET INVESTMENT TIPS

इस कंपनी का मार्केट कैप 35000 करोड़ रुपये है, जबकि नेटवर्थ 28000 करोड़ रुपये है। इसका मतलब है कि बाजार ने इसकी क्षमता के अनुसार कीमत नहीं दी है। कंपनी ने तीसरी तिमाही में लगभग 3000 करोड़ रुपए का ibitda कमाया है। इस प्रकार इस पूरे वित्त वर्ष में ibitda 12000 करोड़ रुपये होना चाहिए। क्या अब 35000 करोड़ रुपये का मार्केट कैप जायज होगा? कंपनी ने इस वर्ष 31 मिलियन टन लौह अयस्क का उत्पादन किया है और 2 वर्षों में 67 मिलियन टन तक पहुंचने की उम्मीद है, जिसका मतलब है कि 2 वर्षों के लिए 50 फीसद से अधिक की भारी वृद्धि। लौह अयस्क से जुड़े कारोबारों के लिए स्टील व स्टील की बढ़ती कीमतों आदि में लोह अयस्क का उत्पादन बढ़ना काफी महत्व है।

Also visit-https://gadgetsmart.tech/vivo-s9e-specifications-leaked/