Digital Akhbaar

Latest Hindi News

Toolkit Case

Toolkit Case:निकिता जैकब ने जूम मीटिंग की बात कबूली, दिशा रवि व ग्रेटा के वॉट्सऐप चैट से कई खुलासा

Toolkit Case

निकिता जैकब ने जूम मीटिंग की बात कबूली, दिशा रवि व ग्रेटा के वॉट्सऐप चैट से कई खुलास

Toolkit Case

Toolkit Case

दिल्ली पुलिस की ओर से दर्ज किए गए टूलकिट केस में गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट का सामना कर रहीं वकील कार्यकर्ता निकिता जैकब ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की है। हाईकोर्ट में दाखिल की गई ट्रांजिट अग्रिम जमानत अर्जी के साथ दाखिल एक दस्तावेज में निकिता जैकब ने दिल्ली पुलिस को दिए बयान का उल्लेख किया गया है। बयान में घटनाओं के बारे में विवरण दिया है। उधर, दिशा रवि और ग्रेटा थनबर्ग के बीच हुई वॉट्सऐप चैट सामने आया है, जिसमें उस पर यूएपीए लगने का डर सता रहा है।टूलकिट मामले से जुड़े पुणे के इंजीनियर शांतनु मुलुक 20 से 27 जनवरी के बीच दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर किसानों के धरना स्थल पर मौजूद रहा। दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

Toolkit Case

पोयटिक जस्टिस फाउंडेशन के साथ जूम कॉल मीटिंग

Toolkit Case

वकील और कार्यकर्ता निकिता जैकब ने बताया कि 11 जनवरी को पोयटिक जस्टिस फाउंडेशन के साथ जूम कॉल मीटिंग के बारे में लिखा है। उस मीटिंग में विभिन्न पृष्ठभूमि के लोग शामिल थे और होस्ट यानी कि मेजबान ने यह स्पष्ट किया था कि अभियान का कोई राजनीतिक या धार्मिक रंग रूप नही होगा। बातचीत के केंद्र में सिर्फ दिल्‍ली में प्रदर्शन कर रहे किसानों के मुद्दे थे। होस्ट ने बताया था कि सामग्री सार्वजनिक डोमेन में रहेगी।

मो धालीवाल ने कनाडा में ही रहने वाली सहयोगी पुनीत के जरिये निकिता से संपर्क किया था। मकसद था कि गणतंत्र दिवस से पूर्व जोरदार तरीके से ट्विटर अभियान छेड़ा जाए। 11 जनवरी को हुई जूम मीटिंग में उसने कहा था कि मुद्दे को बड़ा बनाना है। 26 जनवरी को आइटीओ पर स्टंट के दौरान ट्रैक्टर पलटने से चालक लेकिन उसके पुलिस की गोली से मारे जाने की अफवाह फैलाई गई, जो इसी साजिश का हिस्सा था।

Toolkit Case

ग्रेटा और दिशा रवि के बीच वॉट्सऐप चैट

Toolkit Case

इस बीच तीन फरवरी की रात का वो वॉट्सऐप चैट सामने आया है जो दिल्‍ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार की गर्इ बेंगलुरु की पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि और स्वीडिश पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के बीच हुई थी। चैट से खुलासा हुआ कि ग्रेटा ने जब गलती से टूलकिट ट्वीट कर दिया तो दिशा बुरी तरह डर गई। दिशा को आतंकवाद निरोधक एक्‍ट यूएपीए (UAPA) का डर सताने लगा।

Also visit-https://gadgetsmart.tech/best-mobile-phones-under-15000-2/