कर्णप्रयाग-ग्वालदम राष्ट्रीय राजमार्ग पर बगोली के पास पहाड़ी से टूटकर गिरी चट्टान दंपती की दर्दनाक मौत

नारायणबगड़ की तरफ जा रही कार के ऊपर पहाड़ी से विशाल चट्टान गिर गई। जिससे कार पूरी तरह पिचक गई और उसमें सवार कुलसारी क्षेत्र के मैट्टा गांव निवासी बलवीर सिंह (45) और उनकी पत्नी सावित्री देवी (40) की मौके पर ही मौत हो गई।कर्णप्रयाग-ग्वालदम राष्ट्रीय राजमार्ग पर बगोली के पास पहाड़ी से टूटकर गिरी चट्टान के नीचे एक कार दबने से उसमें सवार दंपती की दर्दनाक मौत हो गई है। घटना की सूचना मिलते ही प्रशासन और पुलिस के जवानों ने रेस्क्यू अभियान चलाकर कार के ऊपर से जेसीबी की मदद से चट्टान हटाकर दंपती के शव निकाले।घटना से पूरे पिंडरघाटी क्षेत्र में शोक की लहर छाई है। थराली के विधायक भूपालराम टम्टा और कर्णप्रयाग के विधायक अनिल नौटियाल ने गहरा शोक जताया है। कर्णप्रयाग के पुलिस उपाधीक्षक अमित कुमार ने बताया कि रविवार दोपहर करीब 2.45 बजे एक अल्टो कार देहरादून से कुलसारी मैटा जा रही थी।

इसी दौरान बगोली में शिव मंदिर के पास 200 मीटर आगे नारायणबगड़ की तरफ जा रही कार के ऊपर पहाड़ी से विशाल चट्टान गिर गई। जिससे कार पूरी तरह पिचक गई और उसमें सवार कुलसारी क्षेत्र के मैट्टा गांव निवासी बलवीर सिंह (45) और उनकी पत्नी सावित्री देवी (40) की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई।
बोल्डर भारी होने के कारण मौके पर जेसीबी मशीन बुलाई गई और स्थानीय लोगों की मदद से कार में गिरे बोल्डर को हटाया गया। उसके बाद दोनों शवों को बाहर निकालकर एंबुलेंस की सहायता से सरकारी उपजिला अस्पताल कर्णप्रयाग भिजवाया गया। बताया जा रहा है कि मृतक दंपती देहरादून से अपने घर कुलसारी मैट्टा आ रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.