उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के 5300 रिक्त पदों के लिए 20 भर्ती परीक्षा करेगा आयोजित

बेरोजगारों के लिए उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग इस वर्ष सुनहरा मौके लेकर आया है। इस वर्ष के अंत तक 5300 रिक्त पदों के लिए 20 भर्ती परीक्षा आयोजित करेगा। लिखित परीक्षा के बाद इन पदों के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा, टंकण परीक्षा एवं आशुलेखन आदि परीक्षा सितंबर 2023 तक संपन्न करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने परीक्षा कार्यक्रम जारी किया। उन्होंने बताया कि आयोग आनलाइन और आफलाइन दोनों माध्यमों से परीक्षाओं का आयोजन करेगा। उन्होंने बताया कि भविष्य में अधिक से अधिक परीक्षाएं आनलाइन माध्यम से आयोजित की जाएं, इसके लिए नए कंप्यूटर केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं।

वर्तमान में प्रदेशभर में सात हजार कंप्यूटर सिस्टम आनलाइन परीक्षा के लिए उपलब्ध हैं। आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने इंटरनेट मीडिया पर चलाए जा रहे चैनलों को गैर जिम्मेदार ठहराया। कहा कि परीक्षा के प्रश्नों को डिलीट करने के निर्णयों पर यह चैनल आमजन को भ्रमित कर रहे हैं। लगभग सभी आयोगों में अधिकांश परीक्षाओं में कुछ प्रश्न निरस्त किए जाते रहे हैं। प्रश्न निरस्तीकरण का राष्ट्रीय औसत पांच प्रतिशत है जबकि उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का यह मात्र तीन प्रतिशत है। आयोग ऐसे मामलों के लिए गठित विषय विशेषज्ञों की राय अंतिम मानकर कोई निर्णय लेगा।

बेरोजगारों के लिए उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग इस वर्ष सुनहरा मौके लेकर आया है। इस वर्ष के अंत तक 5300 रिक्त पदों के लिए 20 भर्ती परीक्षा आयोजित करेगा। लिखित परीक्षा के बाद इन पदों के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा, टंकण परीक्षा एवं आशुलेखन आदि परीक्षा सितंबर 2023 तक संपन्न करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने परीक्षा कार्यक्रम जारी किया। उन्होंने बताया कि आयोग आनलाइन और आफलाइन दोनों माध्यमों से परीक्षाओं का आयोजन करेगा। उन्होंने बताया कि भविष्य में अधिक से अधिक परीक्षाएं आनलाइन माध्यम से आयोजित की जाएं, इसके लिए नए कंप्यूटर केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं।वर्तमान में प्रदेशभर में सात हजार कंप्यूटर सिस्टम आनलाइन परीक्षा के लिए उपलब्ध हैं। आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने इंटरनेट मीडिया पर चलाए जा रहे चैनलों को गैर जिम्मेदार ठहराया। कहा कि परीक्षा के प्रश्नों को डिलीट करने के निर्णयों पर यह चैनल आमजन को भ्रमित कर रहे हैं।

जबकि लगभग सभी आयोगों में अधिकांश परीक्षाओं में कुछ प्रश्न निरस्त किए जाते रहे हैं। प्रश्न निरस्तीकरण का राष्ट्रीय औसत पांच प्रतिशत है जबकि उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का यह मात्र तीन प्रतिशत है। आयोग ऐसे मामलों के लिए गठित विषय विशेषज्ञों की राय अंतिम मानकर कोई निर्णय लेगा।

 परीक्षा कार्यक्रम

माह जून 2022: वाहन चालक, डिस्पेचर, विद्युत अनुदेशक, कार्यशाला अनुदेशक, डीजल मैकेनिक व मत्स्य निरीक्षक

माह जुलाई 2022: मानचित्रकार, प्रारूपकार, सर्वेयर,वन आरक्षी, पुलिस दूरसंचार विभाग में मुख्य आरक्षी

माह अगस्त 2022: राजकीय सहकारी पर्यवेक्षक,सहायक विकास अधिकारी,गन्ना पर्यवेक्षक,बागान पर्यवेक्षक, अनुश्रवण सहायक व प्रयोगशाला सहायक

माह सितंबर 2022: बंदीरक्षक, वरिष्ठ दुग्ध निरीक्षक, सहायक कृषि अधिकारी, पुलिस आरक्षी

माह अक्टूबर 2022: पुलिस निरीक्षक व अवर अभियंता

माह नवंबर 2022: अन्वेषक कम संगणक, सांख्यिकी सहायक, राजस्व उपनिरीक्षक पटवारी, लेखपाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.