एफएसएसएआइ अब जिला स्तर पर खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच प्रदर्शन रिपोर्ट जारी करेगी

भारत की खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) अब जिला स्तर पर खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच को लेकर प्रदर्शन रिपोर्ट जारी करेगी। जिला स्तर की प्रतिस्पर्धा में शामिल होने के लिए राज्य में नैनीताल समेत पांच जिलों ने पंजीकरण भी करा लिया है।अभी तक एफएसएसएआइ की राज्य स्तर की रिपोर्ट जारी होती है। 2021-22 की राज्य स्तरीय रिपोर्ट में उत्तराखंड का प्रदर्शन पिछले वर्ष की अपेक्षा बेहतर है।

एफएसएसएआइ के अनुसार पिछले वर्ष जिला स्तर पर भी निर्धारित फार्मेट में प्रदर्शन अपडेट करना था, लेकिन प्रक्रिया बेहद जटिल थी। इसलिए कोई भी जिला पंजीकृत नहीं हो सका था। इस बार एफएसएसएआइ ने प्रक्रिया आसान बना दी है। इसलिए राज्य के पांच जिलों ने पंजीकरण करा लिया है।इसमें नैनीताल, ऊधम सिंह नगर, हरिद्वार, देहरादून व पौड़ी शामिल है। अब अगले वर्ष से खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता को लेकर जिला स्तर पर भी प्रदर्शन रिपोर्ट जारी होगी। इस प्रतिस्पर्धा से जिला स्तर के अधिकारी उत्साहित हैं।

जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन अधिकारी नैनीताल संजय कुमार सिंह ने बताया कि एफएसएसएआइ के तहत नैनीताल समेत पांच जिलों का आनलाइन पंजीकरण हो चुका है। अब खाद्य गुणवत्ता को लेकर हर गतिविधि को निर्धारित फार्मेट में अपडेट करना शुरू कर दिया है। जिला स्तर पर भी प्रदर्शन की रैकिंग होने पर प्रोत्साहन मिलेगा। यह अच्छी पहल है।

एफएसएसएआइ के अनुसार खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता के तहत ईट राइट कैंपस यानी स्कूल, विश्वविद्यालयों, कार्यस्थलों में स्वच्छ की उपलब्धता, धार्मिक स्थलों पर शुद्धता को लेकर प्रोत्साहन, रेस्टोरेंटों व स्ट्रीट फूड की गुणवत्ता आदि की जांच की जाती है। इन विषयों को लेकर जिला स्तर पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन के कार्यों का प्रदर्शन का आकलन होगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.