अखिलेश यादव के करीबियों पर इनकम टैक्स ने मारा छापा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी नेताओं के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई  जारी है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार, सपा के तीन बड़े नेताओं के ठिकानों पर रेड की जा रही है। उत्तर प्रदेश  के मऊ  में सपा के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय लखनऊ में जैनेंद्र यादव और मैनपुरी में मनोज यादव के ठिकानों पर आयकर विभाग की टीम छापेमारी कर रही है।

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा कि अभी तो सिर्फ आईटी विभाग दिल्ली से आया है। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएगा ईडी और बाकी एजेंसियां भी आएंगी। चुनाव से पहले ही छापेमारी क्यों हो रही है? आईटी डिपार्टमेंट भी यूपी में चुनाव लड़ने आया है. कोई भी इस सरकार में सुरक्षित नहीं है। आजम खान के खिलाफ भी ऐसे ही कार्रवाई की गई। बीजेपी, कांग्रेस के रास्ते पर चल रही है। कुछ भी हो लेकिन साइकिल की रफ्तार कम नहीं होगी।

यूपी के मऊ में राजीव राय के घर पर इनकम टैक्स की रेड सुबह 7 बजे से जारी है। इस छापेमारी के खिलाफ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया है। राजीव राय का आरोप है कि लोगों की मदद करना बीजेपी को पंसद नहीं आया है इसलिए उनके खिलाफ ये कार्रवाई हो रही है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बेहद करीबी और आरसीएल ग्रुप के मालिक मनोज यादव के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी चल रही है। आयकर विभाग के अधिकारी 12 गाड़ियों के काफिले के साथ मनोज यादव के घर पहुंचे।

 

राजीव राय ने कहा कि मेरा कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. मेरे पास कोई अवैध पैसा नहीं है. मेरा लोगों की मदद करना बीजेपी को खल गया. उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से कहा कि कुछ भी ना करो. वीडियो रिकॉर्डिंग हो जाएगी और फिर थाने से एफआईआर होगी इसलिए रेड होने दो।वैसे आयकर विभाग ने अभी तक इस मामले में कोई बयान रिकॉर्ड नहीं किया है। लेकिन राजीव राय के घर के बाहर मौजूद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता आरोप लगा रहे हैं कि चुनाव से पहले बदले की कार्रवाई की जा रही है। सरकार के खिलाफ आवाज उठाने के कारण ये छापेमारी हो रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.